Saturday, 3 June 2017

World Environment Day/ विश्व पर्यावरण दिवस

दुनियाभर में 5 जून को पर्यावरण दिवस यानी विश्व पर्यावरण दिवस World Environment Day के रूप में मनाया जाता है। 
आखिर ऐसी क्या वजह थी क्या ऐसे कारण रहें की पर्यावरण दिवस मनाने की ज़रुरत हुई और इस दिन को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में पूरी दुनिया में 5 जून को मनाया जाने लगा
तो आइये जानते है किन कारणों को देखते हुए समाज के जागरूक लोगो ने एनवायरनमेंट डे मनाने को सोचा। 
पर्यावरण प्रदूषण की समस्या पर सन् 1972 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने स्टॉकहोम (स्वीडन) में विश्व भर के देशों का पहला पर्यावरण सम्मेलन आयोजित किया। इसमें 119 देशों ने भाग लिया और पहली बार एक ही पृथ्वी का सिद्धांत मान्य किया। 


इसी सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) का जन्म हुआ तथा प्रति वर्ष 5 जून को पर्यावरण दिवस आयोजित करके नागरिकों को प्रदूषण की समस्या से अवगत कराने का निश्चय किया गया। तथा इसका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाते हुए राजनीतिक चेतना जागृत करना और आम जनता को प्रेरित करना था।   
वनों की कटाई और ग्लोबल वार्मिंग के बढ़ते स्तर को देखते हुए
पर्यावरण मुद्दों के बारे में आम लोगों को जागरुक बनाने के लिये
सुरक्षित, स्वच्छ और अधिक सुखी भविष्य का आनन्द लेने के लिये


आज बढ़ते ग्लोबल वार्मिंग को देखते हुए अगर हमें आने वाली पीढ़ी को प्रकृति के विनाश से बचना है तो सिर्फ इस दिवस को मनाने इस डे को सोशल नेटवर्किंग पर पोस्ट करने और औपचारिकता से पार नहीं पड़ने वाली हम सबको अपने घर ऑफिस अपने आस-पास के परिवेश में पेड़ लगाने होंगे उनकी सुरक्षा व देखभाल करनी होगी। 

Anuj Pareek 
Dhun Zindagi Ki 
धुन बचाव की 







No comments:

Post a Comment